कश्मीर मुद्दे पे खुलके सामने आया तालिबान, बोले झगड़ा हुआ तो…

जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को भारत की ओर से हटाए जाने पर अफ़ग़ान तालिबान ने भी प्रतिक्रिया दी है.

loading...

अफ़ग़ान तालिबान के प्रवक्ता ने बयान जारी कर इस पर ‘गहरा दुख’ जताया है और भारत-पाकिस्तान दोनों से हिंसा से बचाव के लिए क़दम उठाने की अपील की है.

अफ़ग़ान तालिबान ने अपने बयान में कहा है, “ख़बरें हैं कि भारत ने कश्मीर का स्वायत्त दर्जा वापस ले लिया है, वहां अतिरिक्त सुरक्षा बल भेजे हैं, आपात स्थिति जैसे हालात हैं और वहां की मुस्लिम आबादी के लिए मुश्किलें पैदा कर दी हैं.”

loading...

“इस्लामिक अमीरात (तालिबान) इस पर गहरा दुख जताता है और भारत और पाकिस्तान दोनों से ऐसे क़दम उठाने की अपील करता है जिससे हालात को पेचीदगी और हिंसा की ओर बढ़ने से बचाया जा सके और कश्मीरी लोगों के हक़ का हनन न किया जाए.”

तालिबानी प्रवक्ता ज़बीउल्लाह मुजाहिद की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कुछ पक्षों की ओर से कश्मीर मुद्दे को अफ़ग़ानिस्तान से जोड़े जाने से मसला हल नहीं होगा क्योंकि अफ़ग़ानिस्तान का मुद्दा इससे नहीं जुड़ा है.

loading...

तालिबान ने कहा, “अफ़ग़ानिस्तान को दोनों देशों (भारत-पाकिस्तान) के बीच प्रतिस्पर्धा का थियेटर न बनाया जाए.”

माना जा रहा है कि तालिबान का इशारा पाकिस्तान में विपक्षी नेता शाहबाज़ शरीफ़ के उस बयान की ओर है, जिसमें उन्होंने संसद में दोनों जगह के हालात की तुलना की थी.

पाकिस्तानी सरकार पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा था, “ऐसा क्यों है कि अफ़ग़ान लोग काबुल में बैठकर शांति का आनंद ले रहे हैं लेकिन कश्मीर में ख़ून बह रहा है? हमें ये स्वीकार नहीं है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *